क्रिप्टो से होने वाली कमाई पर देना होगा सरकार को 30% टैक्स- जानिए अन्य नियम –

Union budget in hindi 2022-23: दोस्तों दिन मंगलवार 1 फरवरी 2022 को भारतीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने सांसद में 2022-23 का आम बजट (Union budget) देश के सामने पेश किया, यह आम बजट 90 मिनट तक चला जहाँ देश में शुरू होने वाली कई सारी नयी योजनाओ के बारे में बताया गया।

इसके साथ ही इस बजट में RBI द्वारा देश की पहली डिजिटल करेन्सी को भी जल्द लॉंच करने की बात कही और अन्य cryptocurrency जैसे Bitcoin पर 30% तक का टैक्स भारत सरकार द्वारा लगाया गया है।

इसके साथ ही इस बजट में कॉर्पोरेट टैक्स को 18% से कम करके 15% कर दिया है और इनकम टैक्स में कोई बदलाव नहीं किया गया।

इस बजट के आते ही cryptocurrency में invest कर चुके लोगों और इन्वेस्ट करने की सोचने वाले लोगों में दिमाग में सवाल चलाने लगे,

जैसा की आप जानते है कुछ दिनो पहले जैसे ही भारत सरकार ने डिजिटल करेंसी को बैन करने की बात कही वैसे ही Bitcoin और अन्य क्रिप्टो करेंसी में भारी मात्रा में गिरावट देखने को मिली।

ऐसे में इस आम बजट के आने के बाद लोग जानना चाहते है की क्या अब cryptocurrency भारत में लीगल हो गया है? और क्या इस मे अब निवेश किया जा सकता है।

हालाँकि बजट में cryptocurrency को ले कर वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारत में Crypto और NFT दोनो ही Allowed है। लेकिन आपको इसकी लेन-देन पर सरकार को 30% का टैक्स देना होगा। इसके अलावा इस बजट में क्रिप्टो को ले कर कई सारे नए बदलाव सरकार द्वारा किए गए है, आइए Cryptocurrency 2022-23 bill के बारे में विस्तार से जानते है ।

Crypto और NFT द्वारा Earning पर लगेगा 30% तक का टैक्स

दोस्तों इस आम बजट में केंद्र सरकार द्वारा यह साफ तौर पर घोषणा कर दी गई है की अब से किसी भी प्रकार की cryptocurrency पर होने वाली कमाई में से 30% तक का Assets Tax सरकार को देना होगा ।

हालाँकि यह लीगल है या नहीं इसके बारे में साफ तौर पर कुछ भी नहीं कहा गया है। सरकार ने crypto market को लेकर कुछ नियम बनाए है जो इस प्रकार है –

  • सभी digital Virtual assets (BTC, NFT, ETH, XRP, BCH) पर होने वाली कमाई में से 30%  तक का टैक्स भारत सरकार को pay करना होगा।
  • digital currency को transfer करने पर भी आपको 1% का TDS चार्ज देना होगा।
  • यदि कोई किसी को Cryptocurrency गिफ़्ट के रूप में भी देता है। तब भी जिसे यह गिफ़्ट मिलेगा उसको भी भारत सरकार को टैक्स देना होगा।
  • सरकार ने क्रिप्टो पर किसी भी प्रकार की कोई छूट नहीं दी है।
  • यदि आप Cryptocurrency में Invest करते है तब आपको होने वाले फ़ायदे और नुक़सान की जानकारी सरकार को देनी होगी।

दोस्तों इस बजट के सामने आते ही लोगों के बीच इस चर्चा शुरू हो गई। जिसमें बहुत से investors इस बजट को गलत बता रहे है वही कुछ लोग इसे सही भी बता रहे है।

लेकिन क्या यह बजट Crypto investors के लिए अच्छा है या नहीं आइए जानते है –

अब क्रिप्टो भारत में बैन नहीं होगा?

इस बजट के आने से यह तो साफ हो गया है की सरकार अभी क्रिप्टो को बैन करने के लिए तैयार नहीं है। जिसे लोगों को बड़ी राहत मिली है।

इसे साथ ही वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण से साफ कर दिया है की अब आप क्रिप्टो में निवेश कर सकते है। लेकिन पहले जहाँ आप बिना किसी टैक्स दिए इसका लेन-देन करते थे।

वही अब आपको क्रिप्टो पर होने वाली कमाई पर 30% का टैक्स देना होगा। लेकिन सरकार अभी भी इन cryptocurrency को currency के रूप में नहीं देख रही है।

वह इसे एक Assets के रूप में मान रही है। जैसे कि आप घर लेते है तो उसके लिए house tax देते है। वैसे ही सरकार cryptocurrency को Assest में count कर रही है।

इस समय भारत पूरी दुनिया में अन्य देशों के मुक़ाबले cryptocurrency में सबसे ज़्यादा निवेश करने वाला देश बन गया है। ऐसे में इस बजट के आने के बाद से बड़े निवेशको ने इस बजट पर अपनी नाराजगी भी जाहिर की है।

परंतु फिर भी यह माना जा रहा है की क्रिप्टो में जो गिरावट आयी थी वह इस बिल के आने के बाद से कम हो जाएगी और लोग फिर से अपने पैसे क्रिप्टो करेंसी में निवेश करना शुरू कर देंगे।

RBI कब लॉंच करेगी अपना क्रिप्टोकरेंसी?

इस क्रिप्टो बिल के आने के बाद से यह तो तय हो गया है की जल्द ही भारत सरकार अपना डिजिटल करेंसी लॉंच करेगी। लेकिन कब करेगी और इस डिजिटल करेंसी का नाम क्या होगा, इसके बारे में अभी कोई जानकारी सरकार द्वारा नहीं दी गई है।

सरकार blockchain टेक्नॉलजी की मदद से भारत का खुद का डिजिटल करेंसी 2022-23 तक लॉंच कर सकती है। यह सरकारी डिजिटल करेंसी अन्य दूसरी क्रिप्टो की तरह ही काम करेगी, लेकिन इस डिजिटल करेंसी को सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी के आने के बाद करेंसी मैनेजमेंट सिस्टम बेहद आसान व सस्ता हो जाएगा।इसके साथ ही देश की इकोनॉमी को भी बड़ा बूस्ट मिलने की बात इस बजट में कही गई है।

सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी CBDC क्या है?

CBDC को इलेक्ट्रॉनिक कैश के रूप में देखा जा रहा है, इसकी मदद से आप कैश की तरह ही लेन-देन कर सकते है। 

हालाँकि अभी जितनी भी क्रिप्टो मार्केट में चल रही है यह उसे बहुत अलग होगी। यह सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी यानी CBDC आपको आरबीआई से मिलेगी और आप इसे जिसको भी भेजेंगे उस तक पहुँच जाएगी।

परंतु ना तो यह किसी बैंक अकाउंट में जाएगी और ना ही किसी तरह के वॉलेट में, यह ठीक कैश की तरह ही काम करेगी परंतु अपने डिजिटल रूप में।

दोस्तों आज की पोस्ट में हमने जाना की Union Budget 2022-23 क्या है और इसके साथ ही हमने CryptoCurrency Bill के बारे में भी जाना, उम्मीद करता हूँ आपको क्रिप्टो बिल से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त हो गई होगी। यदि आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें कॉमेंट करेक बता सकते है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: