क्या आप जानते है इंटरमीडिएट साइंस साइड में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

Science me konse subject hote hai ? हम अपनी ज़िन्दगी में बहुत सारे निर्णय लेते है लेकिन इस निर्णय लेने की पहली बार शुरुआत तब होती जब हम 10th पास करते है जब भी कोई विद्यार्थी  10th पास करता है।

तो उसके सामने सबसे बड़ी चुनावती यह होती है की वह इंटरमीडिएट किस विषय से पढ़ना है। विषय के चुनाव से ही पता चलता है की हम आगे जा कर क्या करना चाहते है।

हमारे पास कुछ ही ऑप्शन होते है। कुछ बच्चे यह पहले से ही निर्धारित कर लेते है की उन्हें क्या बनाना है तो वह उसकी के अनुसार अपने विषय का चयन करते है।

लेकिन बहुत सारे बच्चे यह निर्धारित ही नही कर पाते है की उनके लिए कौनसा विषय अच्छा होगा। देखा जाये तो हमारे पास केवल 3 ही ऑप्शन है। कामर्स, आर्ट्स और साइंस 

11th कामर्स में कौन-कौन से विषय होते है इसके बारे में हम बात कर चुके है 11th आर्ट्स कौन-कौन से विषय होते है हम यह भी बात कर चुके है।

अब बचा है विज्ञान, आज की इस पोस्ट में हम जानेगे की 11th क्लास में साइंस साइड में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

Class 11th Science Subject in hindi 

वैसे तो आप अपने पसंद के अनुसार कामर्स, आर्ट्स और साइंस में से किसी को भी ले सकते है। सभी विषयों का अपना-अपना महत्व है।

लेकिन अगर आपका लगाव विज्ञान में है तो आपको यह ज़रूर पता होना चाहिए की साइंस में भी दो ग्रूप होते है।

medical और non medical जिसे हम Biology (medical) और Mathematics (non medical) भी बोलते है।

11th क्लास में बहुत से विद्यार्थी जो non medical क्षेत्र में जाने के लिए मैथ का चुनाव करते है।वही जिनको medical क्षेत्र में जाना होता है वह बायोलॉजी का चुनाव करते है 

आइए अब सबसे पहले जानते है की यदि आप मैथ का चुनाव करते है तब आपको किन-किन विषयों को पढ़ना होगा? उसके बाद हम जानेगे की यदि कोई बायोलॉजी का चुनाव करता है तब उसे किस विषय को पढ़ना होगा?

मैथ साइंस में कितने सब्जेक्ट होते हैं?| Class 11th Non Medical Science Subject in Hindi

जो विद्यार्थी क्लास 11th में PCM (Physics, Chemistry, Maths) का चुनाव करते है उन्हें PCM के आलवा 2 और भी विषय का अध्यन करना होता है। जिनको मिला कर क्लास 11th में 5 विषय हो जाते है जो इस प्रकार है –

  1. Physics 
  2. Chemistry 
  3. Maths 
  4. English 
  5. Hindi 

आइए अब जानते है की इस विषयों में क्या क्या पढ़ना होता है 

Physics 

जिसे हम भौतिक विज्ञान के नाम से भी जानते है। यह काफ़ी मज़ेदार विषय है हालाँकि बहुत से बच्चों को फ़िज़िक्स के सिद्धांत समझ नही आते है। 

लेकिन अगर गौर करे तो फ़िज़िक्स में लागू होने वाले बहुत से सिद्धांत हमारे जीवन से जुड़े है। भौतिक विज्ञान में ही हम दुनिया के महान विज्ञानिको द्वारा दिए गये नियमो को पढ़ते है 

जैसे :- प्रकाश की गति, दाब का नियम, नाभिकीय विखंडन, विद्युत प्रतिरोध के नियम इत्यादि.

Chemistry 

यह मेरा खुद का सबसे मान पसंदीदा विषय था। हालाँकि मैं इसमें ज़्यादा पढ़ाई नही कर पाया।

लेकिन आपको बता दु यह कमाल का विषय है जिसमें आपको molecules, atom, chemical bonding, elements, mixtures जैसे बहुत से टॉपिक पढ़ने को मिलते है।

Mathematics 

Maths तो हम क्लास 1th से ही पढ़ना शुरू कर देते है क्लास 6th से math थोड़ी advance शुरू हो जाती है। 

 और क्लास 11th में इस विषय में बहुत कुछ जोड़ दिया जाता है काफ़ी सारे फ़ॉमूले के साथ इस विषय को अध्ययन करना होता है।

जैसे :- Sets, Principle of Mathematical Induction, Relation & Functions, Statistics, Combination & Permutations etc.

परंतु मैं अपनी बात करूँ तो मैं कभी उतना अच्छा नही रहा हूँ गणित में, हालाँकि गणित प्राचीन काल से चला आ रहा है। 

अगर आप भी गणित में कमजोर है तो आप ये 7 तरीक़े अपना सकते है जिसे आपको गणित को समझने में आसानी होगी।

English 

PCM में इन विषयों के साथ आपको इंग्लिश का भी  अध्ययन  करना होता है। ताकि विद्यार्थी  की इंग्लिश अच्छी हो सकते क्योंकि 12th पास करने के बाद आपको ज़्यादातर विषय इंग्लिश में ही पढ़ने को मिलते है इसलिए इंग्लिश को 12th तक पढ़ाया जाता है जिसे विद्यार्थी  को आगे जीवन में कोई दिक़्क़त ना आये। English में poetry, grammar और prose का अध्ययन  करना होता है।

Hindi 

हिंदी का अध्ययन वही रहता है बस इसके कुछ नये चैप्टर और जोड़ दिये जाते है। इसमें जीवनी, हिंदी व्याकरण, रचनायें आदि का अध्ययन  होता है।

दोस्तों अब आपको समझ आ गया होगा की अगर आप PCM लेते है तो आपको किन-किन विषयों का अध्ययन करना होगा।

आइए अब जानते है यदि कोई Medical वाले विषय लेते है तब क्या पढ़ना होगा।

Note :- कुछ स्कूल में साइंस साइड वालों विद्यार्थी को optional सब्जेक्ट का भी ऑप्शन होता होता है जिसमें Computer और अन्य विषयों को भी पढ़ाया जाता है। Optional विषय क्या है इसकी जानकारी आप अपने स्कूल से प्राप्त कर सकते है

11वीं बायो में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

जो विद्यार्थी 11th क्लास में अपने सब्जेक्ट के रूप में बायो को लेते है उनको PCB कहाँ जाता है। जिसका मतलब होता है Physics, Chemistry और Biology 

इसमें आपका केवल एक ही सब्जेक्ट बदलता है। आप maths ना ले कर bio लेते है। बाक़ी के अन्य 4 विषय वैसे ही होते है। 

bio वालों विद्यार्थी को भी फ़िज़िक्स, केमिस्ट्री, हिंदी और इंग्लिश का अध्ययन करना होता है।

  1. Physics 
  2. Chemistry 
  3. Biology
  4. English 
  5. Hindi 

दोस्तों PCM और PCB में केवल एक ही सब्जेक्ट बदले जाते है बाक़ी सब वही होता है। जैसा कि मैंने आपको ऊपर पहले ही बता दिया है। आइये जानते है की bio में क्या-क्या पढ़ाया जाता है।

Biology :- जैसा कि मैंने आपको बताया था कि साइंस साइड में दो ग्रूप होते है। एक मेडिकल और दूसरा नॉन मेडिकल 

जिन विद्यार्थी को मेडिकल के क्षेत्र में जाना होता है वह PCB का चुनाव कर लेते है। Biology में विद्यार्थी को जीव विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, प्राणी जगत, शरीर द्रव्य, खनिज पोषण इत्यादि के बारे में अध्ययन  करने को मिलता है।

आप NCRT की वेबसाइट पर जा कर फ़्री में hindi medium PDF books download कर सकते है।और अपने स्ट्रीम के अनुसार बुक को डाउनलोड करके पढ़ सकते है।

दोस्तों ऊम्मीद करता हूँ आपको समझ आ गया होगा की Science me konse subject hote hai ? 

यदि आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें कॉमेंट करके बता सकते है। साथ ही इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले। जो अभी 10th पास करके 11th में जा रहे है। सभी विषय अपनी जगह सही है। इसलिए आप उस ही विषय का चुनाव करे जिसमें आपका मन लगता हो। किसी के दबाव में आ कर या किसी दोस्त को देख कर कभी भी अपने विषय का चुनाव ना करे, ऐसा करना शुरू में तो सही लग सकता है लेकिन इग्ज़ाम के समय आपको कुछ समझ नहीं आयेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: