Tor Browser क्या है? कैसे डाउनलोड करे और चलाये?

नमस्ते दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे कि Tor browser kya hai? Tor browser download kaise kare? क्या टोर ब्राउज़र यूज़ करना सही है।क्या tor browser यूज करने से हमारा आईपी एड्रेस hide होता है? आईपी ऐड्रेस क्या होता है अगर आप नहीं जानते तो आपको हमारी यह पोस्ट ज़रूरी पढ़नी चाहिए आईपी एड्रेस क्या होता है?

 टोर ब्राउज़र का यूज कैसे करें? ऐसे बहुत से सवाल आपके मन में होंगे। आज की इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के बाद आपके मान में उठ रहे सारे सवालों के जवाब मिल जायेगे।

टोर ब्राउज़र के साथ पहला नाम आता है वो है डार्कनेट का, डार्कनेट क्या होता है? इसके बारे में हम किसी और पोस्ट में बात करेंगे। आज केवल हम टोर से जुड़ी जानकारी प्राप्त करेंगे। आज हम ऐसे इंटरनेट युग में ज़ी रहे है। जहाँ कुछ भी सम्भव है। हमारे पास पहले से कई बेहतर ऑप्शन है। लेकिन जैसे-जैसे इंटरनेट की समझ लोगों को हो रही है। ठीक वैसे ही इंटरनेट से जुड़े ख़तरे भी हमें देखने को मिल रहे है। आज के समय में online fraud इतने ज़्यादा हो गये है। जो कही ना कही हमारे privacy के लिए एक बड़ा ख़तरा बनते जा रहे है। 

बहुत सारे ऐसे ऐप्स और वेबसाइट है जो बिना हमारे permission के ही हमारी tracking शुरू कर दे रही है। इन्ही कुछ कारणो के चलते भारत सरकार ने 108 से भी ज़्यादा चायनीज़ ऐप्स को बंद किया था। लेकिन यह काम कुछ चायनीज़ ऐप्स ही नहीं, बल्कि अन्य बहुत से ऐप्स और वेबसाइट के द्वारा भी हो रहा है।

ऐसे में अगर आप नहीं चाहते की कोई वेबसाइट आप पर निगरानी रखे तो इसे बचाने के लिए आपके पास केवल एक ही ब्राउज़र है जो आपकी मदद कर सकते है और वो है tor browser, लेकिन ज़्यादातर लोगों को यही लगता है की टोर का उपयोग केवल Hacking या online cyber crime जैसे ग़लत कामों के लिए किया जाता है।

हालाँकि यह बात काफ़ी हद तक सही भी है लेकिन यह आप पर निर्भर करता है की आप इसका उपयोग कैसे करते है। आइए सबसे पहले जानते है कि टोर ब्राउज़र क्या है?

Tor browser kya hai | Tor Network in Hindi

जैसे आप इंटरनेट का यूज करने के लिए google chrome, opera और ahola browser का यूज करते हैं ठीक वैसे ही Tor भी एक Open Source Free Browser Software है। जिसको dark web browser भी कहा जाता है जिसका full form ‘The Onion Router’ tor browser समझने से पहले आइए जानते है कि Tor Network क्या है? 

Tor Network एक volunteer-run system है जो हेल्प करता है हमें इंटरनेट को और भी ज़्यादा anonymous (गोपनीय) तरीक़े से Browse करने में। इसलिए यह  बाक़ी अन्य ब्राउज़र से बिल्कुल ही अलग है। यह आपको Darknet में जाने का रास्ता देता है। क्यूँकि इस ब्राउज़र की मदद से आप anonymous communication कर सकते हो, जिसके लिए Tor Network आपको 7 हज़ार से भी ज़्यादा network relays layers provide करता है।

Tor Project की maximum funding US Government  द्वारा की गई है यह एक Non profit Organization है जो लोगों कि इंटरनेट पर गोपनीयता बढ़ने में मदद करता है।

इसे एक example से समझते है –

मान ले आपको Google.com को टोर ब्राउज़र में ओपन करना है। अब जैसे ही आप टोर का उपयोग करना शुरू करेंगे और उस वेबसाइट पर विज़िट करेंगे, तो टोर आपकी पहचान छुपा देंग,

जैसा कि आप नीचे image में देख सकते है। Tor ब्राउज़र आपको secure relays देता है। जिसे की user के original आईपी ऐड्रेस का पता नहीं चलता। अब ऐसे में आप जिस भी वेबसाइट पर जायेगे वहाँ आप किसी और नेटवर्क आईपी और सर्वर से विज़िट करेंगे। 

यह आपकी पहचान को इंटरनेट पर गोपनीय बनाए रखता है। साथ ही आपका data encrypted होता है। और यह आपको Surveillance और traffic analytics से भी बचाता है। इसलिए इसका नाम The Onion Router, यह ठीक वैसे ही जैसे प्याज़ में परत के बाद के परत होती है। हर relays से जाने वाला data encrypted होता है। जिसे user की original IP Address का पता नहीं चलता । अब आप समझ गये होने की टोर ब्राउज़र कैसे काम करता है।

Tor Browser Download kaise करे?

टोर ब्राउज़र को आप इसकी वेबसाइट से जा कर डाउनलोड कर सकते है। इस सॉफ़्टवेयर को डाउनलोड करना बहुत ही आसान है इसे आप अपने Windows PC/ OS X / Linux और Android में डाउनलोड कर सकते है।

लेकिन इस बात का ध्यान ज़रूर रखे, टोर को सही साइट से डाउनलोड करे नहीं तो आपको दिक़्क़त हो सकती है। इसलिए मैंने आपको इसकी Download Tor Link दे रखी है। 

अगर आप इसे windows pc में इंस्टॉल कर रहे है तो यह normal program की तरह आपके pc के Program File में install ना हो कर यह automatically आपके desktop पर install होगा।

वही अगर आप इसे Mac device में इंस्टॉल कर रहे है तो यह वैसे ही इंस्टॉल होगा जैसे बाक़ी अन्य सॉफ़्टवेयर होते है।

एक बार download होने के बाद tor को सबसे पहले अपने डिवाइस में इंस्टॉल कर ले, उसके बाद Tor browser पर क्लिक करे। क्लिक करने के बाद आपके सामने 2 ऑप्शन आयेंगे, की आप direct tor network से connect होना चाहते है या Proxy setting से,

यदि आपके पास कोई VPN service का तब आप Proxy setting का उपयोग manually करके tor का उपयोग कर सकते है। यदि नहीं है तो आप direct tor network से भी connect हो कर इसे यूज़ कर सकते है। अब आप tor network का उपयोग कर सकते है।

Tor Browser disadvantage (नुक़सान)

  • यह आपकी इंटरनेट की स्पीड को धीरे कर देता है।
  • ISP (Internet service provider) यह नहीं पता कर सकती की अपने कौनसी वेबसाइट यूज़ की है। लेकिन ISP यह पता कर सकती है की अपने टोर ब्राउज़र का उपयोग किया है।
  • exit node पर आपका data रहता है लेकिन उसे आपको track नहीं किया जा सकता।
  • ग़लत साइट उपयोग करने से आप ख़तरे में आ सकते है।
  • यह आपके data को encrypted नहीं करता, लेकिन आपकी गोपनीयता बनाये रखता है। encryption के लिए आप किसी VPN टूल की मदद ले सकते है।
  • कुछ सिक्यरिटी कमी के कारण यह आपको HTTPS साइट की जगह HTTP वाली साइट भी दिखता है।

Advantage (फ़ायदे)

  •  Surveillance और traffic analytics से बचाता है।
  • आपकी पहचान गोपनीय या सुरक्षित रखता है।
  • उन साइट को भी चला सकते है। जो आपको अन्य ब्राउज़र पर नहीं चलती।
  • tor पर आपको सर्च करने के लिए Duckduck go browser मिलता है जो काफ़ी सुरक्षित है।
  • इसकी मदद से आप deep web और dark web  (.onion) साइट को भी ऐक्सेस कर सकते है। जो किसी अन्य ब्राउज़र द्वारा कर पाना सम्भव नहीं है।

Tor Browser Kaise use kare 

अगर आप टोर का उपयोग करना चाहते है तो आपको नीचे बताई गई बातों का ध्यान रखना होगा। जिसे आप सुरक्षित रहे-

  • Tor Browser पर हमेशा HTTPS वाली ही साइट का उपयोग करे, HTTP वाली साइट से बचे.
  • कभी भी अपने real email आईडी का उपयोग ना करे, ऐसा करने से आप track हो सकते है.
  • Tor पर Google का उपयोग ना करे, क्यूँकि गूगल अपने यूज़र की tracking करता है और उनके search behaviour के अनुसार Ads दिखता है। आप Tor search engine DuckDuckGo का यूज़ करे।
  • Tor को बंद करते समय अपने browser से Cookies को delete कर दे, ऐसा करने से आपकी online anonymity बनी रहेगी।

क्या टोर ब्राउज़र यूज़ करना लीगल है?

बहुत से लोगों का मानना है कि टोर ब्राउज़र को यूज़ करना ग़ैरक़ानूनी है। लेकिन यह बात बिल्कुल ही ग़लत है। यह एक बहुत ही बढ़िया safe, secure और anonymous ज़रिया है खुद को ऑनलाइन होने वाले fraud से बचने के लिए, 

हालाँकि इसका उपयोग कुछ ग़लत लोग ग़लत काम के लिए करते है। लेकिन इसका उपयोग बहुत से सही कामों के लिए भी सरकार और मीडिया वाले भी करते है। टोर को बनाने के पीछे यही मक़सद था की लोग track Free Browsing का आनंद ले पाये और उन्हें किसी कम्पनी या सरकार द्वारा track ना किया जाये।

ऐसे में अगर आप भी खुद को online tracking से दूर रखना चाहते है तो आपको इस ब्राउज़र का यूज़ करना चाहिय। दोस्तों उम्मीद करता हूँ आपको tor browser से जुड़ी जानकारी प्राप्त हो गई होगी। और आपके काफ़ी सारे सवालों के जवाब इस पोस्ट के माध्यम से मिल गई होगी।

आशा करता हूँ आपको यह जानकारी मिल गई होगी की Tor browser download kaise kare और Tor का use kaise करे?यदि आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमसे कॉमेंट करके पूछ सकते है। इस पोस्ट को अपने दोस्तों, फ़ैमिली मेम्बर और सोशल मीडिया पर ज़रूर शेयर करे।

1 thought on “Tor Browser क्या है? कैसे डाउनलोड करे और चलाये?”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.